Thursday , May 13 2021

ਸੁੱਕੇ ਖੂਹ ਚੋ ਆ ਰਹੀਆਂ ਸੀ ਅਜੀਬ ਆਵਾਜਾਂ , ਜਦੋਂ ਅੰਦਰ ਦੇਖਿਆ ਤਾਂ ਨਜਾਰਾ ਵੇਖ ਲੋਕ ਰਹਿ ਗਏ ਹੈਰਾਨ ।

हाल ही में एक जंगली लकड़बग्घा जंगल से भटकते हुए जिले के दूरस्थ गांव के बाहर बने एक सूखे कुएं में आकर गिर गया. जब कुछ लोग वहां से गुजरे तो कुए से आती अजीब आवाज़ों ने उनका ध्यान अपनी ओर खीचा. जब अंदर झांका गया तो चमकती आँखे देख लोग हैरान रह गये और तुरंत वन विभाग को सूचना दी. मौके पर पहुंच वन विभाग के अधिकारीयों ने करीब 25 घंटे की मशक्कत के बाद कुए में गिरे लकड़बग्घे को सुरक्षित बाहर निकाला. उसके बाद जो हुआ वो जानकर हैरान रह जायेंगे.

-शनिवार को देर रात एक लकड़बग्घा सूरजपुर जिले के दूरस्थ गांव में जगल से भटकते हुए एक सूखे कुएं में जा गिरा.

-अगली सुबह कुए के पास से गुजर रहे एक व्यक्ति ने जब कुएं से आती अजीब आवाज सुनी तो अंदर झांककर देखा. कुएं में गिरे एक लकड़बग्घा को देख उसके होश उड़ गये. ਤੁਸੀਂ ਪੜ੍ਹ ਰਹੇ ਹੋਂ ਪੰਜਾਬੀ ਤੜਕਾ ਨਿਊਜ਼ ਦਾ ਆਰਟੀਕਲ , ਜੇ ਤੁਹਾਨੂੰ ਆਰਟੀਕਲ ਚੰਗਾ ਲਗੇ ਤਾ share ਜਰੂਰ ਕਰਨਾ . ਧੰਨਵਾਦ .

-व्यक्ति ने गांववालों को इसकी जानकारी दी और वन विभाग को भी तुरंत सूचित किया गया.
ਤੁਸੀਂ ਪੜ੍ਹ ਰਹੇ ਹੋਂ ਪੰਜਾਬੀ ਤੜਕਾ ਨਿਊਜ਼ ਦਾ ਆਰਟੀਕਲ , ਜੇ ਤੁਹਾਨੂੰ ਆਰਟੀਕਲ ਚੰਗਾ ਲਗੇ ਤਾ share ਜਰੂਰ ਕਰਨਾ . ਧੰਨਵਾਦ .
-जानकारी के अनुसार सूखे कुए में निर्माण कार्य चल रहा था और कुआ करीब 30 फीट गहरा था.

-मौके पर पहुँच वन विभाग की एक टीम और गांव वालों ने लकड़बग्घे को निकालने की खूब कोशिश की लेकिन वो उसे निकालने में असफल रहे.

-फिर हारकर कुछ लोगों ने ही कुएं में सीढ़ी के सहारे उतरने का फ़ैसला किया और रस्सियों की मदद से लकड़बग्घे को उसमे फंसाकर बांध दिया.

-तब कही जाकर अगली सुबह सोमवार को जानवर को सुरक्षित बाहर निकाला जा सका. ਤੁਸੀਂ ਪੜ੍ਹ ਰਹੇ ਹੋਂ ਪੰਜਾਬੀ ਤੜਕਾ ਨਿਊਜ਼ ਦਾ ਆਰਟੀਕਲ , ਜੇ ਤੁਹਾਨੂੰ ਆਰਟੀਕਲ ਚੰਗਾ ਲਗੇ ਤਾ share ਜਰੂਰ ਕਰਨਾ . ਧੰਨਵਾਦ .

-25 घंटे से ज्यादा चले इस पूरे रेस्क्यू के बाद लकड़बग्घे को वापस जंगल में छोड़ दिया गया.